Things to Consider Before Buying Gold – Expert Tips for Smart Purchases

भारत में आम हो चाहे खास आदमी सोने के आभूषण हर कोई पहनता है।इसलिए दुनिया में सोने की सबसे ज्यादा माँग भारत में है।गले की चेन, इयर रिंग्स ,अंगूठी और सोने के चूड़ियां, कंगन या कड़ा सोने से बने कोई भी आभूषण देखने में सुंदर तथा आकर्षक लगते हैं ।

भारतीय मंदिरों में सोने का दान भी दिया जाता है। जब बात सोना खरीदने की आती है तो सबसे पहले सोने के रेट और शुद्धता चेक की जाती है।सोने की शुद्धता हम कैरट से मापते हैं। सोना खरीदने से पहले के टिप्स, सोना खरीदने के टिप्स, सोना खरीदने की सलाह पर चर्चा करेंगे l

सोना खरीदने से पहले ध्यान देने वाली बाते

सोना न केवल निवेश के रूप में बल्कि धन और समृद्धि के प्रतीक के रूप में सदियों से सबसे अधिक मांग वाली कीमती धातुओं में से एक रहा है। अगर आप सोना खरीदने की योजना बना रहे हैं तो आपको कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए। इस ब्लॉग में, हम सोना खरीदने से पहले विचार करने योग्य कुछ महत्वपूर्ण कारकों पर चर्चा करेंगे।

  1. सोने की शुद्धता: सोना 22k, 18k और 14k जैसी विभिन्न शुद्धता में उपलब्ध है। कैरेट का मूल्य जितना अधिक होगा, सोना उतना ही शुद्ध होगा। हमेशा 22 कैरेट या 24 कैरेट सोना खरीदने की सलाह दी जाती है क्योंकि इसका मूल्य अधिक होता है और इसे अधिक मूल्यवान माना जाता है। धोखाधड़ी से बचने के लिए खरीदारी करने से पहले सोने की शुद्धता की जांच करना जरूरी है।
  2. हॉलमार्क: हॉलमार्क एक प्रमाणन चिह्न है जो सोने की शुद्धता और प्रामाणिकता को दर्शाता है। सोना खरीदने से पहले हॉलमार्क जरूर चेक कर लें, जो सोने की शुद्धता और प्रामाणिकता की गारंटी देता है। सोने पर हॉलमार्क एक मोहर के रूप में हो सकता है, जो सोने के कैरेट मूल्य, निर्माता के लोगो और निर्माण के वर्ष को इंगित करता है।
  3. मूल्य निर्धारण : सोने की कीमतों में नियमित रूप से उतार-चढ़ाव होता है, और बाजार मूल्य पर नजर रखना आवश्यक है। खरीदारी करने से पहले, कुछ शोध करें और विभिन्न सोने के डीलरों की कीमतों की तुलना करें ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि आपको सबसे अच्छा सौदा मिले। हमेशा याद रखें कि सोने की कीमत विभिन्न कारकों जैसे बाजार की मांग, मुद्रास्फीति और आर्थिक स्थितियों से निर्धारित होती है।
  4. डीलर की प्रतिष्ठा: यह सुनिश्चित करने के लिए एक प्रतिष्ठित डीलर से सोना खरीदना आवश्यक है कि आपको प्रामाणिक और उच्च गुणवत्ता वाला सोना मिले। खरीदारी करने से पहले, डीलर की प्रतिष्ठा पर कुछ शोध करें और उनकी साख की जांच करें। उनकी सेवाओं और उत्पादों के बारे में अधिक जानने के लिए उनके पिछले ग्राहकों की समीक्षा और प्रतिक्रिया देखें।
  5. मकसद: सोना खरीदने से पहले आपको इसे खरीदने का मकसद जरूर पहचान लेना चाहिए। क्या यह निवेश या सजावट के लिए है? यदि यह निवेश के लिए है, तो आप सोने की छड़ें या सिक्के खरीदने पर विचार कर सकते हैं, लेकिन यदि यह सजावट के लिए है, तो आप सोने के आभूषणों का विकल्प चुन सकते हैं। सोना खरीदने का उद्देश्य आपके द्वारा खरीदे जाने वाले सोने के प्रकार और मात्रा को निर्धारित करेगा।

सोने की शुद्धता कैरेट के अनुसार-

  1. 24 कैरेट = 100% शुद्ध सोना (99.9%)
  2. 22 कैरेट = 91.7% सोना
  3. 18 कैरेट = 75.0% सोना
  4. 14 कैरेट = 58.3% सोना
  5. 12 कैरेट = 50.0% सोना
  6. 10 कैरेट = 41.7% सोना

इस पोस्ट में हम 24 कैरेट ,22 कैरेट और 18 कैरेट सोने के बारे में तथा सोना खरीदने से पहले जरूरी बातो पर ध्यान देने के बारे में जानेगें।

24 कैरेट सोना

24 कैरेट सोने में सोने की मात्रा 99.9 % होती है। सोने की पूर्ण शुद्धता का मान 24 कैरेट को ही माना गया है। शुद्ध सोने की वजह से 24 कैरेट का सोना बहुत ज्यादा ही लचीला होता है।जिससे इस सोने का गहना बनाना आसान नहीं है इसलिए गहने बनाने के लिए 22 कैरेट का सोना ही उपयोग में लाया जाता है।

22 कैरेट सोना

22 कैरेट में सिर्फ 91.6 % सोने की मात्रा बाकी कॉपर और जिंक जैसी धातुएं होती हैं जो कि इसमें मिलायी जाती हैं।

शुद्ध सोने या 24 कैरेट सोने में लीचीलापन अधिक होता है जिसके कारण उससे बने गहने मुड़ सकते हैं। इससे गहनों का आकार खराब हो जाता है। गहनों के लिहाज से 22 कैरेट सोना उपयुक्त होता है। 22 कैरेट सोना 24 कैरेट सोने से शुद्धता के मामले में कम होता है,पर गहने बनाने के लिए 22 कैरेट का सोना ही उपयोग में लाया जाता है।

18 कैरेट सोना

18 कैरेट सोने में 75 प्रतिशत सोना 25 प्रतिशत सिल्वर, जिंक, निकेल और कॉपर जैसे मेटलहोते हैं। ऐसे गहने जिसमें पत्थर जैसे मोती या डायमंड या हीरा जुड़े होते हैं, वह 18 कैरेट गोल्ड के ही होते हैं। 18 कैरेट सोने से बने गहने ,24 कैरेट और 22 कैरेट सोने से बने गहनों से ज्यादा मजबूत होते हैं।

18 कैरेट सोने की कीमत 22 कैरेट सोने कीमत से भी कम होती है तो आप कम पैसे में भी सोने के गहने खरीद सकते हैं।

सोना खरीदने से पहले ध्यान देने वाली बाते-

  • आपके शहर में कौन सी विश्वसनीय ज्वैलरी शॉप है ,हमेशा विश्वसनीय ज्वैलरी शॉप से ही सोना खरीदें,ताकि बाद में किसी तरह की परेशानी ना हो।
  • हर शहर में सोने की कीमत अलग-अलग होती है इसलिए सबसे पहले अपने शहर में सोने की कीमत का पता करें।
  • जितने कैरेट का सोना लेना हो इसका निर्णय पहले ही ले लें।
  • सोने के गहने का खरीदने से पहले वजन जरूर करें तथा उसकी रसीद भी लें। रसीद में गहने की शुद्धता तथा गहने का वजन जरूर लिखवाइये ,साथ ही साथ रसीद में खरीद की तारीख और दुकानदार के साइन व मोहर जरूर होने चाहिए।
  • सोने का गहना खरीदने से पहले उसके मेकिंग चार्ज और टैक्स के बारे में जरूर पूंछे
  • लोग शादी ,त्यौहार के सीजन में सोने की खरीददारी ज्यादा करते हैं। इसीलिए इस समय सोने के रेट अधिक होते हैं साथ ही साथ मेकिंग चार्जेस भी अधिक हो जाते हैं।

निष्कर्ष: अंत में, सोना खरीदना एक निवेश है जिसके लिए सावधानीपूर्वक विचार और योजना की आवश्यकता होती है। खरीदारी करने से पहले, शुद्धता, हॉलमार्क, मूल्य निर्धारण, डीलर प्रतिष्ठा और सोना खरीदने के उद्देश्य की जांच करना सुनिश्चित करें। ये कारक आपको एक सूचित निर्णय लेने में मदद करेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि आपको अपने पैसे का सर्वोत्तम मूल्य मिले।

Note :देश के सर्राफा बाजार में अधिकतर 22 कैरेट में ही सोने के गहने बनाये जाते हैं। क्योंकि 22 कैरेट सोने में बने गहने ,24 कैरेट के मुकाबले ज्यादा मजबूत होता है

U ALL US

We're dedicated to giving you the very best of Experience.

Leave a Comment

error: Content is protected !!