CORONA होने पर क्या करें

जैसे जैसे कोरोना संक्रमण बढता जा रहा है देश की हालत भयावह होती जा रही है।हम हड़बड़ाहट में नही समझ पा रहे हैं कि इन हालातों में हमको क्या करना चाहिए ।

ऐसे माहौल में जब भी बुखार आ जाता है तो हमको कॅरोना का खतरा सताने लगता है ।

आज हम इस पोस्ट में जानेंगे कि जब आपको पता चले कि आपको बुखार आ रहा हो या आपको कोरोना के लक्षण दिखाई दें तो क्या करना चाहिए।

बुखार आने पे डरे बिल्कुल नही न घबराये ।मरीज को पौष्टिक आहार दे। ताकि उसकी इम्युनिटी बढ़े।

फल ,ग्रीन वेजटेबल ,वेजटेबल सूप तथा फ्रूट जूस दे।

सबसे पहले आपको ये सुनिश्चित करना होगा कि आपको बुखार किस date से आ रहा है।

मरीज का ऑक्सीजन लेवल चेक करें अगर ऑक्सीजन लेवल 90 से कम है तो उसको तुरंत हॉस्पिटल ले जाना चाहिए।

यदि ऑक्सीजन लेवल 90 से ज्यादा हो तो ज्यादा घबराये न घर पर ही isolate होकर इलाज कर सकते हैं।

ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने या मेन्टेन रखने के लिए उल्टा या पेट के बल लेटिये।इससे आपका ऑक्सीजन लेवल ठीक होगा ।आपके फेफड़े सही से कार्य करने लगेंगे तथा आपको पर्याप्त ऑक्सीजन मिलेगी।

आइसोलेशन में पॉजिटव रहें ।ज्यादा चीजों को हाँथ न लगाये। साफ सफाई का विशेष ध्यान1 रखें।

सेनेटाइजर का उपयोग करते रहें ताकि दूसरो को संक्रमण न हो।

अगर बुखार को 10 दिन से ज्यादा हो गए हो तो ज्यादातर देखा गया है कि वो घर पर ही ठीक हो सकता है।

सबसे ज्यादा डर लोगो को तब लगता है जब उनको बुखार के साथ तेज तेज खांसी आने लगती हैं। घबराये न ऐसे में आप कोई भी अच्छी कंपनी का कफ सीरप ले सकते है।

ज्यादातर सारे सीरप एक ही फॉर्मूले से बनाये जाते हैं।तो आप उसे खाँसी आने पर ले सकते हैं ।

जब कोरोना के लक्षण पीक होते हैं तब तेज बुखार ,कमज़ोरी लगने लगती है तब आप डॉक्टर से सलाह या सम्पर्क करके स्टेरॉइड वाली टेबलेट ले सकते हैं।

ज्यादा हड़बड़ाहट में अस्पताल में इलाज या भर्ती होने को न सोंचे ।बुद्धि ,विवेक तथा संयम से काम ले।

भारत मे कोरोना वैक्सीनशन तेजी से हो रहा है इसमें भाग लीजिये और कोरोना को भगाइये।

फालतू की अफवाहों में न पड़कर जितनी जल्दी हो सके कोरोना वैक्सीन की दोनो डोज़ लगवाये।इससे आप और आपका परिवार सुरक्षित होगा।

Leave a Comment